Cover

टिकटॉक के अमेरिकी कारोबार को मिला ट्रंप का साथ, ओरेकल और वॉलमार्ट के बीच संभावित करार को दी मंजूरी

वाशिंगटन। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने टिकटॉक के अमेरिकी कारोबार को लेकर ओरेकल और वॉलमार्ट के बीच होने वाले प्रस्तावित सौदे को सैद्धांतिक मंजूरी प्रदान कर दी हैं। अगर यह सौदा परवान चढ़ता है तो इसके तहत ना केवल एक नई अमेरिकी कंपनी बनेगी बल्कि 25,000 नई नौकरियां भी सृजित होंगी। सौदे के तहत टिकटॉक अमेरिकी युवाओं की शिक्षा के लिए पांच अरब अमेरिकी डॉलर (लगभग 37 हजार करोड़ रुपये) का अनुदान भी देगा। बता दें कि अमेरिका ने सुरक्षा कारणों के चलते टिकटॉक को प्रतिबंधित किए जाने वाले एप की सूची में रखा है।

राष्ट्रपति ने शनिवार को व्हाइट हाउस में पत्रकारों से कहा, ‘मैं इस नए सौदे को शुभकामनाएं देता हूं। टिकटॉक पर काम चल रहा है। हम ओरेकल और वॉलमार्ट के बीच करार कराना चाहते हैं। सुरक्षा का 100 प्रतिशत ध्यान रखा जाएगा। वे अलग-अलग क्लाउड (डाटा) का इस्तेमाल करेंगे। इसे बेहद मजबूत सुरक्षा प्रदान की जाएगी।’ पिछले महीने ट्रंप ने एक शासकीय आदेश पर हस्ताक्षर किए थे, जिसमें कहा गया था कि अगर चीनी एप टिकटॉक और वीचैट का मालिकाना अधिकार अमेरिका को नहीं दिया जाता है तो 15 सितंबर तक इन पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा। ट्रंप ने शनिवार को कहा, ‘वह (टिकटॉक) अमेरिका में शिक्षा के लिए पांच अरब अमेरिकी डॉलर का अनुदान देगा। हम अमेरिकी युवाओं की शिक्षा के लिए एक विशाल कोष बनाने जा रहे है, जो एक अच्छा कदम साबित होगा। अगर यह सौदा होता है तो बहुत अच्छा और अगर नहीं होता है तो भी ठीक। हालांकि मुझे लगता है कि यह करार अमेरिका के लिए फायदेमंद साबित होगा।’ राष्ट्रपति ने कहा कि इस नई कंपनी का किसी बाहरी देश से कोई लेनादेना नहीं होगा। इसका चीन से भी कोई मतलब नहीं होगा। यह पूरी तरह से सुरक्षित होगा। चूंकि इस सौदे को चीन की सरकार की भी मंजूरी चाहिए, इसलिए ट्रंप ने यह भी कहा है कि हम देखेंगे कि ऐसा होता है या नहीं।

टिकटॉक ग्लोबल होगा नई कंपनी का नाम

नई कंपनी का नाम टिकटॉक ग्लोबल होगा। इसका मुख्यालय संभवत: टेक्सास में होगा। टिकटॉक ग्लोबल में ओरेकल की हिस्सेदारी 12.5 फीसद होगी और वह सभी यूजर का डाटा अपने पास सुरक्षित रखेगी। रिटेल कंपनी वॉलमार्ट की टिकटॉक ग्लोबल में हिस्सेदारी 7.5 फीसद होगी। ओरेकल और वॉलमार्ट के मुताबिक टिकटॉक ग्लोबल में बहुलांश हिस्सेदारी अमेरिकी निवेशकों की होगी। दरअसल, टिकटॉक का मालिकाना हक रखने वाली चीनी कंपनी बाइटडांस की इस वीडियो शेयरिंग एप में लगभग 80 फीसद हिस्सेदारी है, लेकिन अमेरिकी निवेशकों (जनरल अटलांटिक, वेंचर कैपिटल फर्म सिकोइया कैपिटल और इंवेस्टमेंट मैनेजमेंट कंपनी कोएट) की बाइटडांस में 40 फीसद हिस्सेदारी है। इस तरह ओरेकल, वालमार्ट और अमेरिकी निवेशकों की हिस्सेदारी प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष तौर पर लगभग 53 फीसद होगी। माना जा रहा है कि करार के तहत बाइटडांस भी टिकटॉक में अपनी कुछ हिस्सेदारी बेचेगी। अगले साल इसमें और कमी आने की संभावना है।

ओरेकल ने कहा, यूजर के डाटा की 100 फीसद रहेगी सुरक्षा

सौदे के तहत बाइटडांस सोर्स कोड को तो अपने पास रख सकेगी, लेकिन समय-समय पर ओरेकल इसका निरीक्षण करेगी। ओरेकल की सीईओ सफर केट्ज ने कहा कि उनकी कंपनी यूजर को 100 फीसद सुरक्षित वातावरण प्रदान करेगी। अमेरिकी यूजर के डाटा की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जाएगा। बता दें कि केट्ज वर्ष 2016 में ट्रंप की ट्रांजिशन टीम की सदस्य रही हैं। ओरेकल के सह संस्थापक और चेयरमैन लैरी एलिसन उन शीर्ष उद्यमियों में से हैं जो खुले तौर पर अमेरिकी राष्ट्रपति का समर्थन करते हैं। वहीं टिकटॉक की अंतरिम मुख्य कार्यकारी वेनेसा पप्पा ने एक वीडियो पोस्ट में कहा कि टिकटॉक अमेरिका में बना रहेगा।

जारी रहेगी टिकटॉक की डाउनलोडिंग

टिकटॉक और वीचैट की डाउनलोडिंग की रविवार से डाउनलोडिंग रोकने के लिए वाणिज्य मंत्रालय ने शुक्रवार को एक आदेश जारी किया था। हालांकि सौदे की बातचीत सामने आने के बाद मंत्रालय ने इस पर एक सप्ताह तक रोक लगा दी है। कमिटी ऑन फारेन इंवेस्टमेंट इन द यूनाइटेड स्टेट्स (सीएफआइयूएस) और अमेरिकी सरकार का पैनल सौदे के संबंध में हो रही बातचीत की निगरानी करेगा और इसे मंजूरी प्रदान करेगा। अभी तक इस बात का पता नहीं चला है कि क्या यह फैसला वीचैट की डाउनलोडिंग पर भी लागू होगा।

यह सौदा उचित नहीं: ग्लोबल टाइम्स

चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी के आधिकारिक समाचार पत्र ग्लोबल टाइम्स की तरफ से इस सौदे पर पहली प्रतिक्रिया सामने आई है। ग्लोबल टाइम्स के एडिटर हू शीजिन ने कहा कि यह सौदा उचित नहीं है, लेकिन सबसे खराब स्थिति से अच्छा है। सबसे खराब स्थिति के तहत टिकटॉक को अपना अमेरिकी कारोबार बंद करना पड़ता या फिर किसी अमेरिकी कंपनी को बेचना पड़ता।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान दो दिन के वाराणसी दौरे पर पहुंचे, बोले – सर्दी के कारण बढ़ा है गैस का दाम     |     बरेली, मेरठ और मथुरा में विकास योजनाओं को परखेंगे मंत्री श्रीकांत शर्मा     |     यूपी में बेखौफ बदमाशों ने सपा नेता के भाई की गोलियों से भूनकर की हत्या     |     जमीनी विवाद को लेकर ठाकुरों और दलितों के बीच खूनी संघर्ष, 10 लोग घायल     |     अमेठी: हादसे का शिकार हुई डबल डेकर बस, 25 घायल यात्रियों में से 2 की हालत गंभीर     |     अमरपुर में काट दिए सात साल पुराने 171 पेड़, तीन लाख आंकी जा रही कीमत, छह पर केस     |     कांग्रेस सदन में उठाएगी कोरोना योद्धाओं का मामला, कर्मचारियों के बीच पहुंच प्रीतम सिंह ने दिया आश्वासन     |     कैबिनेट बैठक : मुख्यमंत्री घसियारी कल्याण योजना पर कैबिनेट की मंजूरी     |     उत्तराखंड सरकार के चार साल पर 18 मार्च को राज्यभर में कार्यक्रम, वर्चुअली संबोधित करेंगे सीएम     |     नैनीताल में भाई को वीडियो काल पर बताकर नैनी झील में कूदा उप्र निवासी युवक, मौत     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890