Cover

बिडेन का कंट्रोल होता तो न मरता आतंकी लादेन और न सुलेमानी- ट्रंप

वाशिंगटन। अमेरिका में जैसे-जैसे राष्ट्रपति चुनाव की तारीख करीब आ रही है वैसे-वैसे दोनों पार्टियां- रिपब्लिकन और डेमोक्रेट की ओर से वोटर्स को लुभाने के लिए वायदों के दौर के साथ एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप की बौछार भी जारी है। डेमोक्रेट राष्ट्रपति उम्मीदवार जो बिडेन ने कहा है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की तरह मैं नहीं हूं, मैं सभी अमेरिकियों का राष्ट्रपति बनूंगा चाहे वो कोई भी हो मुझे वोट दिया हो या नहीं ये मायने नहीं रखता। वहीं रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप ने बिडेन की जीत से देश में उपद्रव और अराजकता फैलने की बात कही है और कहा कि बिडेन ने ISIS को हमेशा बढ़ावा दिया है यदि उनका कंट्रोल होता तो अब तक न बिन लादेन मरता और न ही सुलेमानी।

हमेशा से गलत रहीं बिडेन की गतिविधियां

ट्रंप ने कहा, ‘बिडेन की तरह कोई गलत नहीं हो सकता। बिडेन ने इराक की युद्ध के लिए वोट दिया, उन्होंने ओसामा बिन लादेन ( Osama bin Laden) के खिलाफ चलाए गए मिशन का विरोध किया,  सुलेमानी के मारे जाने का विरोध किया यहां तक कि  ISIS को भी समर्थन दिया है और चीन की बढ़त को अमेरिका के लिए पॉजिटिव बताया। यदि यह सब जो बिडेन के हाथ में होता तो बिन लादेन और सुलेमानी अब तक जिंदा रहता,  ISIS अपने गतिविधियों को नहीं रोकता और अमेरिका की जगह दुनिया में चीन ताकतवर देश होता।’

बिडेन की जीत यानी दंगाईयों और चीन की जीत: ट्रंप

इस क्रम में रिपब्लिकन उम्मीदवार राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है, ‘रिपब्लिकन के लिए वोट का मतलब सुरक्षित कम्युनिटी, बेहतरीन नौकरी के मौकों के साथ अच्छा भविष्य है।’ उन्होंने अपने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘यदि बिडेन की जीत होती है तो चीन जीतेगा और देश में उपद्रव का माहौल होगा। बिडेन की जीत के साथ विद्रोही, दंगाई, अराजकतावादी, आगजनी करने वाले, और झंडा जलाने वालों की जीत होगी।’ उन्होंने आगे कहा कि विस्कोंसिन में फैक्ट्रियों के साथ नौकरियों की वापसी के लिए मैं दोबारा चुनाव में खड़ा हो रहा हूं, साथ ही मेरी कोशिश होगी कि अपराधियों को उपयुक्त सजा दी जा सके।

ट्रंप ने गंवाई विरासत में मिली चीजें: बिडेन

दूसरी ओर डेमोक्रेट राष्ट्रपति उम्मीदवार जो बिडेन ने ट्रंप पर निशाना साधते हुए दोनों के पारिवारिक पृष्ठभूमि का जिक्र किया। बिडेन ने कहा, ‘मेरे जैसे लोग जो अपने परिवार में कॉलेज जाने वाला पहला शख्स था… हम किसी भी साधारण व्यक्ति की तरह अच्छे हैं और ट्रंप जैसे लोगों से मुझे हमेशा दिक्कतें रही हैं जिन्हें विरासत में हर चीज मिली लेकिन उसे गंवा दिया।’ बिडेन ने आगे कहा कि चुनाव के परिणामों को वे स्वीकार करेंगे। वहीं ट्रंप ने कोविड-19 के कारण ‘मेल-इन’ बैलट का इस्तेमाल के लिए मंजूरी नहीं दी है और कहा है कि इससे चुनाव में धोखाधड़ी हो सकती है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

अखिल भारतीय परिषद के दूसरी बार प्रांतीय सदस्य बने शुभम राजावत     |     Shabnam Ali की फांसी को लेकर निर्भया के दोषियों के वकील एपी सिंह ने दिया सबसे अलग बयान     |     RLD सुप्रीमो अजित सिंह ने भाजपा सरकार पर साधा निशाना, बोले- कुछ भी कर लो, नहीं रुकेगा विरोध     |     अखिलेश को भाया केमिकल इंजीनियर का इटावा पर रैप, अब सपा पर बनवाएंगे एलबम     |     यूपी में कोरोना से संक्रमित 108 नए रोगी मिले, सीएम योगी का निर्देश- संकट अभी टला नहीं, बरतें सर्तकता     |     यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- विधायक मुख्तार अंसारी की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध     |     उत्तराखंड भाजपा का चिंतन शिविर 12 मार्च से दून में, विधानसभा चुनाव की रणनीति पर होगा मंथन     |     मासूम से छेड़छाड़ पर युवक को पांच साल की कैद     |     केंद्र को सौंपा चौखुटिया में हवाई पट्टी का प्रस्ताव, गैरसैंण तक पहुंच होगी आसान     |     उत्तराखंड: महिला अधिकारी ने शासन के अधिकारी पर लगाए आरोप, पत्र भेजकर की कार्यवाही की मांग     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890