Cover

दिल्ली दंगे के आरोपी उमर खालिद के समर्थन में उतरे दिग्विजय सिंह, बोले- गांधीवादी हिंसक नहीं होते

भोपाल: मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने दिल्ली दंगे के आरोपी उमर खालिद के समर्थन में उतर आए हैं। दिग्विजय सिंह ने एक पूर्व आईएएस के ट्वीट को रिट्वीट कर उमर खालिद का समर्थन किया है। साथ ही दिग्विजय सिंह ने जोर देकर कहा है कि गांधीवादी लोग हिंसक प्रवृति के नहीं होते हैं।

एमपी कैडर के पूर्व आईएएस अधिकारी हर्ष मंदर के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए दिग्विजय सिंह ने लिखा कि हर्ष मंदर एक बहुत ही कर्तव्यनिष्ठ और ईमानदार आईएएस अधिकारी रहे हैं। मैं उनसे पिछले 35-40 वर्षों से परिचित हूं। यदि वे उमर खालिद के पक्ष में हैं, तो मैं उनके साथ हूं। गांधीवादी कभी हिंसक प्रवृत्ति का नहीं हो सकता है। मैं #StandWithUmarKhalid का समर्थन करता हूं।

आपको बता दें कि दिल्ली दंगों की साजिश के मामले में जेनएयू के पूर्व छात्र उमर खालिद को गिरफ्तार किया है। उमर खालिद का नाम दिल्ली दंगों की लगभग हर चार्जशीट में है। इस गिरफ्तारी को लेकर देश भर के बुद्धिजीवी लोग विरोध कर रहे हैं। कई अफसरों ने दिल्ली दंगों की जांच पर भी सवाल उठाए हैं। लोग सोशल मीडिया के जरिए उमर खालिद के समर्थन में मुहिम चला रहे हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

चार गुना बढ़े किराए के साथ एक्सप्रेस बनकर चलने के लिए तैयार हुईं पैसेंजर ट्रेनें     |     सीरियल दुष्कर्मी हर महीने 3 महिलाओं से करता था दुष्कर्म, एसओ करते कार्रवाई तो बच जाती 2 महिलाएं     |     BJP सांसद के बेटे ने गढ़ी झूठ कहानी, बाइक सवारों ने नहीं बल्कि साले से खुद मरवाई थी गोली     |     बहन के प्रेमी को फंसाने के लिए भाई ने चली थी ये खौफनाक चाल, ऐसे हुआ खुलासा     |     जमीनी विवाद में सपा नेता की गोली मारकर हत्या, बेटे ने SDM पर लगाए ये गंभीर आरोप     |     खतरे में नैनीताल व अल्मोड़ा जनपद को जोड़ने वाला ब्रिज, रैंप पर मिट्टी बिछाकर हो रही आवाजाही     |     कोविन पोर्टल की सुस्ती के बाद भी बढ़ा टीकाकरण का ग्राफ, तीन गुना अधिक लोगों को लगा टीका     |     जाली दस्तावेजों पर उत्तराखंड, सिक्किम और हिमाचल से पाकिस्तान के साथ अन्य देश भेजे गए थे व्यक्ति, ऐसे खुला मामला     |     कुंभ में 18 हजार क्षमता के शेल्टर बनेंगे, एसओपी और राज्य सरकार की कार्यवाही पर लगी मुहर     |     उत्तराखंड के सभी शहरी निकायों में सर्किल रेट के आधार पर संपत्ति कर, दो विधेयकों को मंजूरी     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890