Cover

केंद्रीय मंत्री रिजिजू ने कहा- अरुणाचल प्रदेश के पांच युवाओं को आज सौंप सकता है चीन

नई दिल्ली। केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू ने शुक्रवार को ट्वीट कर बताया कि अरुणाचल प्रदेश से लापता पांच युवाओं को चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) शनिवार को भारतीय अधिकारियों के हवाले कर सकती है।

पीएलए ने कहा था- चार सितंबर को लापता पांच युवा सीमा के उस पार मिले थे

पीएलए ने मंगलवार को बताया था कि भारत-चीन सीमा से चार सितंबर को लापता हुए पांच युवा उसे सीमा के उस पार मिले हैं। रिजिजू ने ही पहली बार यह जानकारी दी थी। वह अरुणाचल प्रदेश से ही सांसद है।

पांचों युवाओं को सेरा-7 से चीनी सैनिक उन्हें अपने साथ ले गए थे

दरअसल, यह घटना उस वक्त सामने आई थी जब जंगल में शिकार कर रहे युवाओं के इस समूह के दो सदस्य अपने घर लौटे और पांचों युवाओं के परिवारों को सूचित किया कि सेरा-7 से चीनी सैनिक उन्हें अपने साथ ले गए हैं।

सेरा-7 नाचो से 12 किमी उत्तर में सेना का गश्ती क्षेत्र है

सेरा-7 नाचो से 12 किमी उत्तर में सेना का गश्ती क्षेत्र है। जबकि नाचो दापोरिजो जिला मुख्यालय से करीब 120 किमी दूर मैक्मोहन रेखा से लगा आखिरी प्रशासनिक परिक्षेत्र है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

चार गुना बढ़े किराए के साथ एक्सप्रेस बनकर चलने के लिए तैयार हुईं पैसेंजर ट्रेनें     |     सीरियल दुष्कर्मी हर महीने 3 महिलाओं से करता था दुष्कर्म, एसओ करते कार्रवाई तो बच जाती 2 महिलाएं     |     BJP सांसद के बेटे ने गढ़ी झूठ कहानी, बाइक सवारों ने नहीं बल्कि साले से खुद मरवाई थी गोली     |     बहन के प्रेमी को फंसाने के लिए भाई ने चली थी ये खौफनाक चाल, ऐसे हुआ खुलासा     |     जमीनी विवाद में सपा नेता की गोली मारकर हत्या, बेटे ने SDM पर लगाए ये गंभीर आरोप     |     खतरे में नैनीताल व अल्मोड़ा जनपद को जोड़ने वाला ब्रिज, रैंप पर मिट्टी बिछाकर हो रही आवाजाही     |     कोविन पोर्टल की सुस्ती के बाद भी बढ़ा टीकाकरण का ग्राफ, तीन गुना अधिक लोगों को लगा टीका     |     जाली दस्तावेजों पर उत्तराखंड, सिक्किम और हिमाचल से पाकिस्तान के साथ अन्य देश भेजे गए थे व्यक्ति, ऐसे खुला मामला     |     कुंभ में 18 हजार क्षमता के शेल्टर बनेंगे, एसओपी और राज्य सरकार की कार्यवाही पर लगी मुहर     |     उत्तराखंड के सभी शहरी निकायों में सर्किल रेट के आधार पर संपत्ति कर, दो विधेयकों को मंजूरी     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890