Cover

सितंबर के पहले चार सत्रों में विदेशी निवेशकों ने की 900 करोड़ की निकासी, भारत-चीन तनाव व कमजोर आर्थिक आंकड़े बनें कारण

नई दिल्ली। विदेशी निवेश के मोर्चे पर सितंबर महीने में झटका लगा है। विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (FPI) ने सितंबर महीने के शुरुआती चार सत्रों में भारतीय पूंजी बाजारों से शुद्ध रूप से 900 करोड़ रुपये निकाले हैं। आंकड़ों के अनुसार, एफपीआई ने एक से चार सितंबर के बीच शेयरों से शुद्ध रूप से 675 करोड़ रुपये निकाले और ऋण या बॉन्ड बाजार से शुद्ध रुप से 225 करोड़ रुपये निकाले।

एफपीआई ने यह निकासी मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही के कमजोर आर्थिक आंकड़ों व भारत-चीन सीमा पर तनाव बढ़ने के चलते की है। इससे पहले जून, जुलाई और अगस्त महीने में विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने भारतीय पूंजी बाजारों में अच्छा-खासा निवेश किया था।

एफपीआई ने जून महीने में भारतीय पूंजी बाजारों में  24,053 करोड़ रुपये, जुलाई में 3,301 करोड़ रुपये और अगस्त में 46,532 करोड़ रुपये डाले थे। एफपीआई के इस निवेश से शेयर बाजारों में काफी सकारात्मक माहौल बना हुआ था।

इस संबंध में मॉर्निंगस्टार इंडिया के एसोसिएट निदेशक व प्रबंधक (शोध) हिमांशु श्रीवास्तव ने कहा कि पहली तिमाही के जीडीपी के आंकड़े जारी होने से पहले बीते सप्ताह की शुरुआत में विदेशी निवेशकों ने सतर्क रुख अपनाया था। गौरतलब है कि वित्त वर्ष 2020-21 की पहली तिमाही में भारत की आर्थिक वृद्धि दर (-) 23.9 फीसद दर्ज की गई।

श्रीवास्तव ने कहा कि कमजोर वैश्विक रुख व भारत-चीन सीमा पर तनाव के कारण विदेशी निवेशकों ने भारतीय पूंजी बाजारों से निकासी की। उनका कहना था कि एफपीआई द्वारा की गई निकासी की एक और वजह मुनाफावसूली भी है। मौजूदा माहौल के बीच एफपीआई ने मुनाफावसूली की है। वहीं, कोटक सिक्योरिटीज के रस्मिक ओझा का कहना है कि भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले 40 लाख के पार चले गए हैं और अमेरिकी बाजारों में भी बिकवाली का दौर चल रहा है। ऐसे में आने वाले हफ्तों में भी एफपीआई द्वारा और निकासी की जा सकती है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान दो दिन के वाराणसी दौरे पर पहुंचे, बोले – सर्दी के कारण बढ़ा है गैस का दाम     |     बरेली, मेरठ और मथुरा में विकास योजनाओं को परखेंगे मंत्री श्रीकांत शर्मा     |     यूपी में बेखौफ बदमाशों ने सपा नेता के भाई की गोलियों से भूनकर की हत्या     |     जमीनी विवाद को लेकर ठाकुरों और दलितों के बीच खूनी संघर्ष, 10 लोग घायल     |     अमेठी: हादसे का शिकार हुई डबल डेकर बस, 25 घायल यात्रियों में से 2 की हालत गंभीर     |     अमरपुर में काट दिए सात साल पुराने 171 पेड़, तीन लाख आंकी जा रही कीमत, छह पर केस     |     कांग्रेस सदन में उठाएगी कोरोना योद्धाओं का मामला, कर्मचारियों के बीच पहुंच प्रीतम सिंह ने दिया आश्वासन     |     कैबिनेट बैठक : मुख्यमंत्री घसियारी कल्याण योजना पर कैबिनेट की मंजूरी     |     उत्तराखंड सरकार के चार साल पर 18 मार्च को राज्यभर में कार्यक्रम, वर्चुअली संबोधित करेंगे सीएम     |     नैनीताल में भाई को वीडियो काल पर बताकर नैनी झील में कूदा उप्र निवासी युवक, मौत     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890