Cover

बुजुर्ग को अपने गांव में नहीं नसीब हुआ अंतिम संस्कार, पड़ोसी गांव के श्मशानघाट में ले जाना पड़ा

सीहोर: मध्य प्रदेश में सीएम शिवराज सिंह चौहान के गृह जिले में आत्मनिर्भर भारत की तस्वीर की तस्वीर देखने को मिली। मामला आष्टा तहसील के ग्राम शाहपुरा गांव का हैजहां एक मृतक को अपने गांव में अंतिम संस्कार भी नसीब भी नहीं हुआ। भारी बारिश के चलते पड़ोस के गांव के शमशान में अंतिम संस्कार करना पड़ा। इस तस्वीर से प्रशासन और जनप्रतिनिधि को भी अहसास हो गया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया और आत्मनिर्भर भारत के सपने को चकनाचूर करने में उनके स्थानीय प्रशासन और जनप्रतिनिधि बढ़ चढ़कर अपना अमूल्य योगदान दे रहे हैं।

दरअसल, शाहपुरा गांव में भारी बारिश के दौरान कोदाजी कोटवार का निधन हो गया। मूसलाधार बारिश में अंतिम संस्कार करने के लिए टीन शेड वाले शमशान के अभाव में उस बुजुर्ग की लाश को भारी बारिश के बीच परिजन और ग्रामीण पिकअप वाहन में रखकर पड़ोस के गांव निलबड़ में जलाने के लिए ले जाना पड़ा। ऐसे में इस घटना से सवाल उठता है कि क्या आजादी के इतने सालों बाद भी शाहपुर गांव में श्मशान में टीन शेड नहीं लगा? क्या जिले के संवेदनशील कलेक्टर इस बात को संज्ञान में लेकर उक्त मामले की जांच कराएंगे या फिर यह मामला भी ठंडे बस्ते मे रह जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

चार गुना बढ़े किराए के साथ एक्सप्रेस बनकर चलने के लिए तैयार हुईं पैसेंजर ट्रेनें     |     सीरियल दुष्कर्मी हर महीने 3 महिलाओं से करता था दुष्कर्म, एसओ करते कार्रवाई तो बच जाती 2 महिलाएं     |     BJP सांसद के बेटे ने गढ़ी झूठ कहानी, बाइक सवारों ने नहीं बल्कि साले से खुद मरवाई थी गोली     |     बहन के प्रेमी को फंसाने के लिए भाई ने चली थी ये खौफनाक चाल, ऐसे हुआ खुलासा     |     जमीनी विवाद में सपा नेता की गोली मारकर हत्या, बेटे ने SDM पर लगाए ये गंभीर आरोप     |     खतरे में नैनीताल व अल्मोड़ा जनपद को जोड़ने वाला ब्रिज, रैंप पर मिट्टी बिछाकर हो रही आवाजाही     |     कोविन पोर्टल की सुस्ती के बाद भी बढ़ा टीकाकरण का ग्राफ, तीन गुना अधिक लोगों को लगा टीका     |     जाली दस्तावेजों पर उत्तराखंड, सिक्किम और हिमाचल से पाकिस्तान के साथ अन्य देश भेजे गए थे व्यक्ति, ऐसे खुला मामला     |     कुंभ में 18 हजार क्षमता के शेल्टर बनेंगे, एसओपी और राज्य सरकार की कार्यवाही पर लगी मुहर     |     उत्तराखंड के सभी शहरी निकायों में सर्किल रेट के आधार पर संपत्ति कर, दो विधेयकों को मंजूरी     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890