Cover

भारत में 2020 खत्म होने से पहले आ जाएगी पहली कोरोना वैक्सीन, जानें कहां तक पहुंचा ट्रायल

नई दिल्ली। भारत समेत पूरी दुनिया में कोरोना वायरस महामारी का कहर तेजी से बढ़ रहा है। भारत में प्रतिदिन अब करीब 70 हजार तक मामले सामने आने लगे हैं। इस बीच भारत में लोगों को कोरोना वैक्सीन को लेकर काफी उम्मीदें हैं। रूस ने दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन बना ली है लेकिन आखिर भारत में पहली कोरोना वैक्सीन कब तक आ सकती है।

इसको लेकर देश के स्वास्थ्य मंत्री ने बड़ी जानकारी दी है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा है कि अगर सब कुछ ठीक रहा तो देश की पहली कोरोना वैक्सीन इस साल के अंत तक आ जाएगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा है कि कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में भारत का पहली वैक्सीन इस साल के अंत तक उपलब्ध हो सकती है।

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन(Dr. HarshVardhan) ने बताया कि देश में कोरोना वायरस का पहला मामला 7 जनवरी,2020 को सामने आया था और अगले ही दिन हमने कोरोना वायरस के खिलाफ नीति बना ली थी। डॉ. हर्षवर्धन ने जानकारी दी कि फिलहाल देश में कोरोना की वैक्सीन का तीसरे फेज का ट्रायल शुरू हो गया है। उन्होंने उम्मीद जताई कि अगले दो से तीन महीनों में भारत में कोरोना की वैक्सीन लॉन्च हो सकती है।  डॉ. हर्षवर्धन ने NDRF के 10बेड वाले makeshift अस्पताल का उद्घाटन करते हुए बताया कि हमारी कोरोना वैक्सीन में से एक का ट्रायल तीसरे चरण में है। उन्होंने कहा है कि हमें हमें पूरा विश्वास है कि इस साल के अंत तक एक वैक्सीन विकसित हो जाएगी।

देश में चल रहा 3 वैक्सीनों का ट्रायल

वर्तमान में देश में तीन कोरोना वैक्सीन का ट्रायल चल रहा है।पहली वैक्सीन का नाम स्वदेशी रूप से कोवाक्सिन(Covaxin) है, जिसे  भारत बायोटेक ने भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद(आइसीएमआर) के साथ सयुक्त रूप से विकसित किया है। दूसरी वैक्सीन का नाम- जाइकोव-डी(Zykov-D) है, जिसे फार्मा कंपनी जायडस कैडिला(Zydus Cadila) ने विकसित किया है।

इसके अलावा देश में एक तीसरी वैक्सीन का ट्रायल चल रहा है जिसका नाम कोविशील्ड(Covishield) है। इसे ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय(Oxford University) द्वारा विकसित और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India), पुणे और एस्ट्राजेनेका द्वारा संयुक्त रूप से निर्मित किया गया है। इसका ट्रायल फिलहाल पुणे में चल रहा है। इन तीन कोरोना वैक्सीनों का ट्रायल अलग-अलग चरणों में है। देश में फिलहाल एक वैक्सीन का ट्रायल तीसरे चरण में है।

पोर्टल पर जल्द मिलेगी वैक्सीन की जानकारी

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषषद (आइसीएमआर) कोरोना वैक्सीन से जुड़ी हर जानकारी देने के लिए एक पोर्टल तैयार कर रही है। अगले हफ्ते तक यह पोर्टल चालू भी हो जाएगा। इस पर भारत के साथ ही विदेश में बनने वाली कोरोना वैक्सीन की जानकारी अंग्रेजी समेत कई क्षेत्रीय भाषषाओं में उपलब्ध होगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

स्वतंत्रदेव सिंह का विपक्ष पर हमला, कहा- कांग्रेस ने लूटा देश, सपा ने UP को किया कंगाल     |     कुंभ मेलाः शाही अंदाज में निकली अखाड़ों की पेशवाई, पुष्प वर्षा से हुआ साधु-संतों का स्वागत     |     फर्जी दस्तावेजों का इस्तेमाल कर हथियार खरीदने वाला गिरफ्तार     |     अखिलेश ने बताया मंदिर में ‘चंदा’ नहीं ‘दक्षिणा’ दिया जाता है, समाजवादी राममंदिर में भी यही देंगे     |     CM हेल्पलाइन 1076 पर मिली अधिक शिकायतें, योगी ने प्रयागराज और फर्रूखाबाद DM से मांगी सफाई     |     राजभर का CM योगी पर तंज, कहा- RSS के बल पर कुर्सी पर बैठे हैं, जिस टोपी का जिक्र…     |     ‘अमित शाह मुझे समझा दें कृषि कानून, मैं समझ गया तो किसानों को समझा दूंगा’     |     किसान आंदोलन के प्रति समर्थन जुटाने के लिए राकेश टिकैत का प्लान, मार्च में इन 5 राज्यों का करेंगे दौरा     |     लव जिहाद पर बोले CM योगी- हिंदू हो या मुस्लिम लड़की को धोखा देने वाले पर होगी कार्रवाई, पत्नी व बच्ची को दफनाने वाले असलम का किया जिक्र     |     जानिए, RLD के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी अजित सिंह ने क्यों कहा- पगड़ी संभालो, नहीं तो हो जाओगे बर्बाद     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890