Cover

कश्मीर में आतंकियों के लिए तंग हुई जमीन, खीज में भाजपाइयों को बना रहे निशाना

जम्मू। तेज विकास की उम्मीदें और शांति के लिए कश्मीर में मजबूत होती आवाज आतंकवादियों और उनके आकाओं के होश उड़ा रही है। राष्ट्रवाद विचारधारा के प्रसार के कारण अलगाववादी ताकतों की जमीन सिकुड़ती जा रही है। गली-गली में लहरा रहे तिरंगे और अनुच्छेद-370 के खात्मे की वर्षगांठ पर मना जश्न साबित करता है कि अब कश्मीर की आवाम डरकर चुप नहीं बैठेगी। ऐसे में बौखलाए आतंकी भाजपा कार्यकर्ताओं और पंचायत प्रतिनिधियों को निशाना बनाकर अपनी खीझ मिटा रहे हैं।

अनंतनाग के लाल चौक में तिरंगा फहराकर भाजपा नेता रुमैसा रफीक ने ऐसी ताकतों को सीधी चुनौती दी है। यह बदलाव एकाएक नहीं हुआ। 2014 में केंद्र में सत्ता आने और विधानसभा चुनाव में शानदार प्रदर्शन के बाद भाजपा ने अन्य राष्ट्रवादी ताकतों के साथ मिलकर मिशन कश्मीर को गति देना आरंभ कर दिया था। पंचायत चुनाव में भाजपा के समर्थन से जीते 1200 के करीब पंचों और सरपंचों ने विकास को गति देनी आरंभ की। स्थानीय निकायों में करीब 100 वार्ड से जीतकर पहुंचे पार्टी नेता और कार्यकर्ता अब नए कश्मीर के ध्वजवाहक बन गए

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रविंद्र रैना का कहना है कि अनुच्छेद-370 हटने के बाद नए कश्मीर का गठन हो रहा है। जहां कभी आइएस के झंडे लहराए जाते थे, आज तिरंगे फहराए जा रहे हैं। धमकियों को दरकिनार कर ग्रामीण व शहरी निकाय प्रतिनिधि लोगों को आतंकियों व उनकी भाषा बोलने वाले सियासी दलों की असलियत बता रहे हैं। ऐसे में एक्सपोज हो रहे कश्मीर के कुछ दल आम लोगों को ही अपना दुश्मन मानने लगे हैं।

दहशत से आजादी चाहते हैं कश्मीरी :

भाजपा की राज्य कार्यकारिणी सदस्य डॉ. अनीसा गुल का कहना है कि कश्मीरी गरीबी, खूनखराबे और दहशत से आजादी चाहते हैं। भाजपा ने कश्मीर के लोगों को रोशनी की किरण दिखाई तो उनका हौसला बढ़ा। ऐसे में जब आम लोगों ने आतंकियों और अलगाववादियों की नाफरमानी की तो वे बौखला गए हैं। वहीं, लोगों को अब समझ आ रहा है कि केंद्रीय योजनाओं से अच्छे दिन आ सकते हैं।

पांच साल में दोगुने हो गए भाजपा के वोट :

भाजपा के वरिष्ठ नेता अल्ताफ ठाकुर का कहना है कि वर्ष 2019 के आम चुनाव में पार्टी को कश्मीर में 22 हजार से अधिक वोट मिले। जबकि वर्ष 2014 में 10 हजार के करीब वोट मिले थे। अनंतनाग सीट के त्राल विधानसभा क्षेत्र में तो भाजपा अव्वल रही। यहां से महबूबा मुफ्ती तीसरे व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष जीए मीर चौथे स्थान पर थे। आतंक के गढ़ में भाजपा का मजबूत होना आतंकवादियों व उनके समर्थकों को हताश कर रहा है।

हमने सात लाख कार्यकर्ता जोड़े :

भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष सोफी युसूफ ने कहा है कश्मीर में बदली फिजा में लोग राहत की सांस ले रहे हैं। अनुच्छेद-370 हटने के बाद पत्थरबाजी बंद हो गई, अब मुठभेड़ स्थलों पर भीड़ नहीं आ रही। भाजपा कार्यकर्ताओं ने लोगों को बताया कि विकास क्या होता है और केंद्र ने क्या योजनाएं बनाई हैं। कश्मीर में सात लाख लोगों को पार्टी से जोड़ा गया है। ऐसे में राष्ट्र विरोधी ताकतों का बौखलाना लाजिमी है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

अखिल भारतीय परिषद के दूसरी बार प्रांतीय सदस्य बने शुभम राजावत     |     Shabnam Ali की फांसी को लेकर निर्भया के दोषियों के वकील एपी सिंह ने दिया सबसे अलग बयान     |     RLD सुप्रीमो अजित सिंह ने भाजपा सरकार पर साधा निशाना, बोले- कुछ भी कर लो, नहीं रुकेगा विरोध     |     अखिलेश को भाया केमिकल इंजीनियर का इटावा पर रैप, अब सपा पर बनवाएंगे एलबम     |     यूपी में कोरोना से संक्रमित 108 नए रोगी मिले, सीएम योगी का निर्देश- संकट अभी टला नहीं, बरतें सर्तकता     |     यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- विधायक मुख्तार अंसारी की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध     |     उत्तराखंड भाजपा का चिंतन शिविर 12 मार्च से दून में, विधानसभा चुनाव की रणनीति पर होगा मंथन     |     मासूम से छेड़छाड़ पर युवक को पांच साल की कैद     |     केंद्र को सौंपा चौखुटिया में हवाई पट्टी का प्रस्ताव, गैरसैंण तक पहुंच होगी आसान     |     उत्तराखंड: महिला अधिकारी ने शासन के अधिकारी पर लगाए आरोप, पत्र भेजकर की कार्यवाही की मांग     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890