Cover

भूमि पूजन में शामिल होने रोहतक से अयोध्या पहुंचे नाथ संप्रदाय के उपाध्यक्ष बालक नाथ जी महाराज

अयोध्या। Live Ayodhya Ram temple news: रामनगरी अयोध्या में भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर के निर्माण के लिए भूमि पूजन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच अगस्त को करेंगे। इस कार्यक्रम को लेकर देश के साथ विदेश में भी असीम उल्लास का माहौल है। देश तथा प्रदेश में आज तथा कल दीपावली जैसा माहौल रहेगा। मंगलवार की शाम से ही प्रदेश जगमग हो जाएगा और कल रात तक रहेगा। इस कारण अब राम नगरी में भी कौतुहल चरम पर है। रामजन्मभूमि पर राममंदिर के लिए भूमिपूजन तो बुधवार को होगा, लेकिन यह खुशी अयोध्या के साथ-साथ देशभर में मंगलवार से छा गई है।

मोहन भागवत बनेंग राममंदिर के शिलान्यास के गवाह 

राममंदिर के शिलान्यास समारोह में शामिल होने को आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत लखनऊ से अयोध्या के लिए रवाना हो चुके हैं। वहीं, नाथ संप्रदाय के उपाध्यक्ष बालक नाथ जी महाराज हरियाणा के रोहतक से रामनगरी पहुंचे। उधर, कारसेवक पुरम में सतपाल महाराज व बालकनाथ महाराज रामंदिर भूमि पूजन पर चर्चा की।

अयोध्या पहुंचे बाबा रामदेव, कहा- हजारों वर्षों की प्रतीक्षा के बाद मिला सौभाग्य

Live Ayodhya Ram temple news: योग गुरु बाबा रामदेव, स्वामी अवधेशानंद, चिदानंद मुनि, सुधीर दहिया, राजू स्वामी एक हेलीकॉप्टर से अयोध्या एयरपोर्ट पहुंचे। कल यानी पांच अगस्त को राममंदिर भूमि पूजन में शामिल होंगे।

वहीं, अयोध्या रवाना होने से पूर्व उन्होंने एक वीडियो अपने ट्विटर हैंडल पर साझा किया। उसमें उन्होंने कहा – ”श्री रामजन्मभूमि के लिये हम प्रस्थान कर रहे हैं और हमें सौभाग्य मिला है कि हमारी आंखों के सामने, हमें दिव्य भव्य राम मंदिर के शिलान्यास में सम्मिलित होने का यह अवसर मिला है। सबके राम-राम नाम सुखदाई। ”

रामनगरी में बाहरी लोगों का प्रवेश बंद

अयोध्‍या की सीमा को सील कर द‍िया गया है। रामनगरी में बाहरी लोगों को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। ब‍िना आइकार्ड चेक क‍िए क‍िसी को भी शहर में जाने की अनुमत‍ि नहीं म‍िल रही है। चार अगस्त की मध्य रात्रि से लखनऊ-गोरखपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर भी जिले की सीमा से बाहरी व माल वाहक वाहनों के लिए यातायात डायवर्ट कर दिया जाएगा। रामनगरी के संपर्क मार्गाें पर सोमवार से पहरा बैठा दिया गया है। रामनगरी के प्रमुख मंदिर सहित कार्यशाला को भी कड़ी निगरानी में रखा गया है।

हनुमान गढ़ी व रामजन्मभूमि प्रांगण को एसपीजी की देखरेख में किया गया सैनेटाइज

देश तथा प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण रामनगरी अयोध्या में भी भूमि पूजन को लेकर अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है। पीएम मोदी के हर कार्यक्रम स्थल का एसपीजी कमांडो की टीम ने दौरा किया। इस दौरान उनकी देखरेख में हनुमानगढ़ी मंदिर तथा श्रीराम जन्मभूमि परिसर को नगर निगम की टीम ने सैनेटाइज किया। पीएम मोदी अयोध्या में कल सबसे पहले हनुमानगढ़ी में दर्शन करेंगे।

ब्लैक कैट कमांडो ने संभाली सुरक्षा व्‍यवस्‍था 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को रामनगरी पहुंचेंगे। उनके साथ कई महत्‍वपूर्ण हस्‍त‍ियों का भी जमावड़ा अयोध्‍या में शुरू हो गया है। इसे देखते हुए प्रशासन कोई कोर कसर छोड़ना नहीं चाहता है। मंगलवार को हनुमानगढ़ी के सामने ब्लैक कैट कमांडो ने मोर्चा संभाला ल‍िया है। वहीं अध‍िकार‍ियों ने पीएम नरेंद्र मोदी के कल आगमन के मद्देनजर रिहर्सल भी क‍ि‍या। प्रधानमंत्री की सुरक्षा ड्यटी में तैनात मजिस्ट्रेटों को ड्रेस कोड का भी अनुपालन करना होगा। जिला मजिस्ट्रेट अनुज कुमार झा की तरफ से मजिस्ट्रेटों की लगाई गई ड्यूटी में ड्रेस कोड का उल्लेख किया गया है। पीएम के नियत कार्यक्रम से तीन घंटे पहले मजिस्ट्रेट को अपने ड्यूटी प्वाइंट पर पहुंचना होगा। पीएम की ड्यूटी में तैनात मजिस्ट्रेट काले रंग का बंद गले का कोट, सफेद शर्ट व काले पैंट में होंगे। पीएम कार्यक्रम का यही ड्रेस कोड है। पीएम कार्यक्रम के 26 ड्यूटी प्वाइंट बनाए गए हैं। करीब 40 मजिस्ट्रेट ड्यूटी करेंगे।

हनुमानगढ़ी में ही हनुमान निशान की विशेष पूजा 

अयोध्या में श्रीराम मंदिर जन्मभूमि पर भूमि पूजन की तैयारियों तथा पूजा के कार्यक्रम में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण काफी बदलाव किया गया है। इसी क्रम में श्रीरामजन्मभूमि मंदिर में हनुमानगढ़ी से जो हनुमान निशान जाना था, अब वो नहीं जाएगा। हनुमानगढ़ी में ही उसकी विशेष पूजा की गई है। अयोध्या के हनुमानगढ़ी मंदिर में एक विशेष ‘हनुमान निशान’ है जो करीब सात सौ वर्ष पुराना बताया जाता है। यह चार मीटर चौड़ा और आठ मीटर लंबा ध्वज है। इसके साथ ही एक गदा और एक त्रिशूल है, जिसे करीब 20 लोग हनुमानगढ़ी से रामजन्मभूमि स्थल पर ले जाते हैं। कोरोना वायरस संकट के कारण इसको टाला गया है। इसी कारण विश्व हिन्दू परिषद से जुड़े लोगों के साथ हनुमानगढ़ी मंदिर में पुजारियों ने हनुमान निशान की विशेष पूजा की। पहले सुबह नौ बजे इस निशान को रामजन्मभूमि ले जाना था। इस मौके पर संतोंं और राम भक्तों का उत्साह चरम पर दिखा। कोई भगवा लहरा रहा था तो कोई हनुमान जी का वेश धारण कर आनंद मग्न था

परंपरा के मुताबिक, हर पूजा से पहले हनुमान निशान राम जन्मभूमि स्थल में जाता है। कोई शुभ कार्य होता है, तो हनुमान निशान की पूजा पहले की जाती है। वहां से ही निशान को ले जाया जाता है, ऐसा ही भूमि पूजन के लिए होना था। हनुमानगढ़ी के मुख्य पुजारी राजू दास का कहना है कि हनुमानगढ़ी का निशान भूमि पूजन के दौरान नहीं ले जाया जाएगा। पहले जाने का कार्यक्रम था लेकिन विश्व हिंदू परिषद और सब लोगों ने मिलकर यह फैसला किया है और इसकी पूजा आज हनुमानगढ़ी में की गई है।

नाका हनुमानगढ़ी को देसी घी के दीपों से सज्जित करने की तैयारी है, तो एक आध्यात्मिक संस्था की ओर से अयोध्या के सभी शिवालयों और सरयू तट को देसी घी के दीपों से आच्छादित करने की तैयारी की गई है।वहीं श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने लोगों से भूमिपूजन के अवसर पर चार व पांच अगस्त को पूजन, अनुष्ठान और शाम को दीपोत्सव का आह्वान किया है। इस आह्वान को अयोध्या ने शिद्दत से शिरोधार्य किया है। न केवल ट्रस्ट एवं संघ परिवार सहित भाजपा व उसके अन्य सहयोगी संगठनों की ओर से दीपोत्सव को सफल बनाने के लिए लोगों तक आवश्यक संसाधन भी मुहैया कराए जा रहे हैं, बल्कि रामनगरी के साधु-संत भी अपने स्तर से दीपोत्सव मनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

आज होगी रामार्चा पूजन और कथा

प्रधानमंत्री बुधवार को मध्याह्न राम मंदिर की आधार शिला रखेंगे, तब तक भूमिपूजन का अनुष्ठान निरंतर चलता रहेगा। मंत्र जाप और ग्रंथों के पाठ के बीच मंगलवार को रामार्चा पूजन और रामार्चा कथा संयोजित है। रामार्चा पूजन और कथा का दायित्व रामनगरी के ही प्रतिष्ठित रामकुंज मंदिर के महंत रामानंददास संभालेंगे।

राम जन्मभूमि पर भव्य-दिव्य मंदिर निर्माण के लिए पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुरूप भूमि पूजन का तीन दिवसीय अनुष्ठान सोमवार सुबह नौ बजे से शुरू हो गया है। इस अनुष्ठान की पूर्णाहुति पांच अगस्त (बुधवार) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भूमि एवं शिलापूजन के साथ मंदिर की आधारशिला रखकर करेंगे। अनुष्ठान में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल हुए। अनुष्ठान के शुभारंभ के मौके पर दिल्ली के आचार्य चंद्रभानु, अयोध्या के ही आचार्य इंद्रदेव एवं प्रयाग के आचार्य पंकज जैसे पारंगत वेदज्ञों के साथ 21 वैदिक आचार्यों ने पूजन किया। दिव्य मंत्रोच्चार से भव्य मंदिर के निर्माण के लिए प्रस्तावित पांच एकड़ का संपूर्ण परिसर गूंज उठा।

वास्तु देवता को केंद्र में रख कर निवेदित मंगलाचरण और जौ, अक्षत, पान-सुपारी, तिल, पुष्प, रोली आदि से षोडशोपचार पूजन के मंत्रोच्चार के साथ विधिवत कर्मकांड का क्रम घंटों तक चला। इस मौके पर यजमान के रूप में दिल्ली निवासी कारोबारी महेश भाग्यचंद्र सपत्नीक मौजूद रहे। उन्होंने मंदिर निर्माण के लिए एक करोड़ 10 लाख रुपये दानस्वरूप ट्रस्ट को प्रदान किये हैं। पहले दिन के पूजन में विहिप के अंतरराष्ट्रीय संगठन मंत्री दिनेशचंद्र एवं श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य तथा अयोध्या राजपरिवार के मुखिया बिमलेंद्रमोहन मिश्र भी शामिल हुए। गौरी-गणेश, भूमि-वास्तु, और पंचांग देवता के पूजन का क्रम कुछ देर में तो थमा, पर भगवान राम सहित गौरी-गणेश, भूमि-वास्तु आदि के मंत्र जाप एवं वाल्मीकि रामायण, रामचरितमानस एवं गीता का अनवरत पारायण आगे बढ़ता गया

सरयू की नित्य महाआरती करने वाली संस्था आंजनेय सेवा संस्थान की ओर से विशेष तैयारी की गई है। भूमि पूजन के अवसर पर मंगलवार व बुधवार को संस्थान की ओर से 21 सौ दीपों की महाआरती की जाएगी। कई मंदिरों में सोमवार से ही भूमि पूजन को लेकर दीपोत्सव का उल्लास छलका। तपस्वी जी की छावनी में महंत परमहंस दास के संयोजन में 51 सौ दीप जले तो रानोपाली स्थित उदासीन ऋषि आश्रम में सप्ताहभर से दीप जलाकर मंदिर निर्माण की शुरुआत का उल्लास व्यक्त किया जा रहा है। अब मंगलवार को यह उल्लास पूरे शहर में दिखेगा और बुधवार इस उत्सव का चरम होगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

अंबेडकरनगर में ग्राम विकास अधिकारी निलंबित, सोशल मीडिया पर घूस लेते Video हुआ था वायरल     |     रायबरेली के प्राइमरी स्‍कूल में महिला टीचरों ने एक दूसरे को जड़े थप्‍पड़; बच्‍चों ने सुनाया आंखों देखा हाल     |     गोंडा में दबंगों ने केरोसिन डाल महिला को जलाया-हालत गंभीर, छह दिन बाद वायरल हुआ Video     |     दोबारा कोरोना संक्रमण से लखनऊ में पहली मौत, 48 घंटे में म‍िले 15 संक्रमित     |     सीएम योगी अद‍ित्‍यनाथ बोले, उत्तर प्रदेश का ब्रांड बन रहा है गुड़…उत्पादकों को दिलाएंगे लाभकारी मूल्य     |     यूपी में छह माह में दुष्कर्म के सात आरोपितों को फांसी की सजा, महिला अपराध के मामलों में बढ़ी मुस्तैदी     |     भारत के दबाव के बाद नेपाल पुलिस को सौंपना पड़ा पीलीभीत के युवक का शव, बॉर्डर पर हाई अलर्ट     |     कोरोना पॉजिटिव निकला डेढ़ करोड़ का सोना लाने वाला तस्कर, लखनऊ एयरपोर्ट पर दबोचा था कस्‍टम टीम ने     |     लखनऊ में कोल्ड स्टोरेज में अमोनिया रिसाव से जोरदार धमाका, दो की मौत-चार की हालत गंभीर     |     सीतापुर की किशोरी से लखनऊ में सामूहिक दुष्कर्म, आरोप‍ित की मां ने पुल‍िस को दी चौंकाने वाली जानकारी     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890