Cover

नेपाली कम्युनिस्ट पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, पीएम ओली ने कीं भारत के खिलाफ ये तीन बड़ी गलतियां

काठमांडू। नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने हाल ही में ‘गैर कूटनीतिक’ और भारत विरोधी ‘उकसाने वाला’ बयान देकर तीन ‘गलतियां’ की हैं। नेपाल में सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने यह टिप्पणी की है। इस्तीफा सौंपने की मांग का सामना कर रहे नेपाल के प्रधानमंत्री इन दिनों चौतरफा दबाव में घिरे हुए हैं।

पिछले महीने प्रधानमंत्री ओली ने आरोप लगाया था कि भारत ने उनके राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों के साथ मिलकर उन्हें सत्ता से बेदखल करने की साजिश रची है। उन्होंने यह टिप्पणी नेपाल का नक्शा फिर से तैयार करने संबंधी विधेयक को मंजूरी देने के एक सप्ताह बाद की थी। इस विधेयक में भारत और नेपाल के बीच विवाद के केंद्र में आने वाले लिपुलेख पहाड़ी दर्रा, कालापानी और लिंपियाधुरा इलाके का नेपाली क्षेत्र के रूप में सीमांकन करने की बात कही गई थी।

दबाव का सामना कर रहे ओली ने पिछले महीने एक और दावा कर विवाद पैदा कर दिया। उन्होंने कहा कि असली अयोध्या भारत में नहीं, बल्कि नेपाल में है। भगवान राम का जन्म दक्षिणी नेपाल के थोरी में हुआ था।

पीएम ओली के बयान गैर कूटनीतिक

कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ नेपाल के प्रवक्ता और पार्टी के केंद्रीय सचिवालय के सदस्य नारायणकाजी श्रेष्ठ ने प्रधानमंत्री के बयान को गैर कूटनीतिक करार दिया। उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने भारत के विरुद्ध टिप्पणी कर भारी भूल की है। ऐसे समय में जब दक्षिणी पड़ोसी देश के साथ वार्ता के माध्यम से सीमा मुद्दे का समाधान जरूरी है तब उन्होंने ऐसा किया है।’

भारत के खिलाफ पीएम ओली की ये हैं तीन बड़ी गलतियां

हिमालयन टीवी को दिए गए साक्षात्कार में श्रेष्ठ ने कहा कि पहली गलती भारत के प्रतीक सत्यमेव जयते के बारे में चिढ़ाने वाले अंदाज में टिप्पणी किया जाना था। दूसरी गलती अपनी सरकार को अस्थिर करने के लिए भारत पर साजिश रचने का निराधार आरोप लगाना था। उनकी तीसरी गलती भगवान राम का जन्म स्थान नेपाल में बीरगंज के समीप होने का दावा करना था।

बता दें कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा आठ मई को 80 किलोमीटर लंबी रणनीतिक महत्व की सड़क का उद्घाटन करने के बाद नेपाल के साथ भारत के द्विपक्षीय रिश्ते में तनाव पैदा हो गया है। यह सड़क उत्तराखंड में धारचुला के साथ लिपुलेख दर्रे को जोड़ती है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

विकास के सफर में यदि तेजी से आगे बढ़ना है तो कनेक्टिविटी पर फोकस करना होगा     |     मिर्जापुर में मिलावटी शराब पीने से दो की मौत, डीएम ने सीएमओ को दिया जांच का आदेश     |     UP विस चुनाव को लेकर बोले पुनिया- कांग्रेस जीत की प्रबल दावेदार, प्रियंका गांधी के नेतृत्व में हम लड़ेंगे इलेक्शन     |     यूपीः कांग्रेस नेता ने अवैध तमंचे से गोली मारकर की आत्महत्या, जांच में जुटी पुलिस     |     अखिलेश का BJP पर तंज- मुद्दों से भटकाने में भाजपा का जवाब नहीं     |     अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष बोले, कोरोना से न डरे सरकार; कुंभ में की जाएं सभी तरह की व्यवस्थाएं     |     विधानसभा का बजट सत्र आज से, चार मार्च को पेश होगा बजट     |     कुमाऊं मंडल विकास निगम अब प्रोफेशनल्‍स के सहारे बढ़ाएगा आय, नियुक्‍त‍ि प्रक्रिया शुरू     |     शहीद के नाम पर बनी सड़क की दुर्दशा देखिए, जान जोखिम में डालकर आते जाते हैं राहगीर     |     तीन मिनट में मिलेगी किसी भी स्थान की सटीक जानकारी, सर्वे ऑफ इंडिया देशभर में स्थापित कर रहा 900 कोर्स स्टेशन     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890