Cover

दूसरों की जान बचाकर खुद सैलाब में बह गए दो भाई, हर किसी की जुबां पर है बस उनका ही नाम

जोशीमठ। Uttarakhand Chamoli Glacier Burst ऋषिगंगा की आपदा के दौरान दूसरों की जान बचाने में जुटे दो चचेरे भाई सैलाब में बहकर लापता हैं। तपोवन विष्णुगाड परियोजना के बैराज पर काम कर रहे अनूप और राजेश ने जब सैलाब आते देखा तो शोर मचाने लगे, जिस पर कई श्रमिकों ने भागकर जान बचा ली। यहां तक कि बैराज के ठीक सामने स्थित उनके घर से स्वजन भी शोर मचाकर उन्हें भागने को कहते रहे, लेकिन जब तक दोनों भाई भाग पाते सैलाब ने उन्हें अपनी आगोश में ले लिया।

सात फरवरी को ऋषिगंगा में आए सैलाब ने कई परिवारों को जिंदगी भर का जख्म दे दिया। ढाक गांव के दो चचेरे भाइयों के परिवार का हाल भी जुदा नहीं है। आपदा के दिन दोनों भाई अनूप और राजेश थपलियाल तपोवन परियोजना के बैराज में कंक्रीटिंग का काम करा रहे थे। दोनों एनटीपीसी के लिए काम करने वाली कंपनी ऋत्विक में बतौर सीनियर सुपरवाइजर तैनात थे। आपदा के चश्मदीद ढाक गांव निवासी संदीप कुमार और विक्रम सिंह बताते हैं, उस दिन वो बैराज साइट पर काम कर रहे थे, उन्होंने अनूप और राजेश के चिल्लाने पर ही भागकर जान बचाई।

वहीं, भंग्यूल गांव के संदीप सिंह कहते हैं, वो भी दोनों चचेरे भाइयों की वजह से ही जिंदा हैं, लेकिन अफसोस दोनों की अब तक कोई खबर नहीं मिली है। राजेश के भाई रविंद्र थपलियाल बताते हैं, ढाक गांव ऋषिगंगा नदी के पार तपोवन बैराज साइट से लगा हुआ है। जब सैलाब की तेज गड़गड़ाहट सुनाई दी तो घर के सभी लोग बाहर आ गए। उन्होंने साइट पर काम कर रहे दोनों भाइयों को भागने के लिए कहा तो वो खुद बचने की बजाय दूसरों को भागने के लिए कहने लगे। डबडबाई आंखों से रविंद्र कहते हैं, दोनों के पास अपनी जान बचाने का पूरा समय था, लेकिन हमारी आंखों के सामने ही वो ऋषिगंगा में समा गए।

परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़ 

अनूप अपने पिता का इकलौता बेटा था। उनका 11 साल का बेटा है और पत्नी सपना सात माह की गर्भवती है। वहीं, राजेश का एक बेटा और एक बेटी है। दोनों के लापता होने से परिवारवालों का रो-रोकर बुरा हाल है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

चार गुना बढ़े किराए के साथ एक्सप्रेस बनकर चलने के लिए तैयार हुईं पैसेंजर ट्रेनें     |     सीरियल दुष्कर्मी हर महीने 3 महिलाओं से करता था दुष्कर्म, एसओ करते कार्रवाई तो बच जाती 2 महिलाएं     |     BJP सांसद के बेटे ने गढ़ी झूठ कहानी, बाइक सवारों ने नहीं बल्कि साले से खुद मरवाई थी गोली     |     बहन के प्रेमी को फंसाने के लिए भाई ने चली थी ये खौफनाक चाल, ऐसे हुआ खुलासा     |     जमीनी विवाद में सपा नेता की गोली मारकर हत्या, बेटे ने SDM पर लगाए ये गंभीर आरोप     |     खतरे में नैनीताल व अल्मोड़ा जनपद को जोड़ने वाला ब्रिज, रैंप पर मिट्टी बिछाकर हो रही आवाजाही     |     कोविन पोर्टल की सुस्ती के बाद भी बढ़ा टीकाकरण का ग्राफ, तीन गुना अधिक लोगों को लगा टीका     |     जाली दस्तावेजों पर उत्तराखंड, सिक्किम और हिमाचल से पाकिस्तान के साथ अन्य देश भेजे गए थे व्यक्ति, ऐसे खुला मामला     |     कुंभ में 18 हजार क्षमता के शेल्टर बनेंगे, एसओपी और राज्य सरकार की कार्यवाही पर लगी मुहर     |     उत्तराखंड के सभी शहरी निकायों में सर्किल रेट के आधार पर संपत्ति कर, दो विधेयकों को मंजूरी     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890